योगी सरकार पर भड़का बीजेपी नेता – को’रोना से हर गांव में म’रे 10-10 लोग, चुनाव में चुकाएंगे कीमत

उत्तर प्रदेश की सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के एक नेता ने योगी सरकार के दावों के उलट राज्य में दूसरी लहर के दौरान कोरोना से 10 लाख मौत होने का दावा किया है। भाजपा के नेता एवं पूर्व विधायक राम इकबाल सिंह ने कहा कि सरकार ने कोरोना की पहली लहर से सबक नहीं लिया जिसके कारण दूसरी लहर में हर गांव में कम से कम दस लोगों की मौ’त हुई है।

उन्होने कहा, बलिया जिले में स्वास्थ्य विभाग ने सीएम योगी को गुमराह किया। यहाँ लाखों लोग हवा के बिना तड़प-तड़प कर म’रे हैं। उन्होने कहा, बलिया में स्वास्थ से जुड़ी सारी व्यवस्थाएं खराब पड़ी रही। जिले में न तो सरकारी डॉक्टर है और नहीं दवाएं। बलिया में सिर्फ 30 बेड का अस्पताल बिना आक्सीजन प्लांट के चल रहा था। उन्होंने कोविड​​-19 पीड़ितों के परिजनों के लिए 10 लाख रुपए की अनुग्रह राशि की मांग की।

इकबाल सिंह ये भी कहा, ‘भाजपा में समय के साथ बदलाव हो गया है और आउटसोर्सिंग कर आये दूसरे दल के नेताओं का दबदबा हो गया है। जिन्होंने राम मंदिर को लेकर आपत्तिजनक बयान दिए थे, आज वह योगी सरकार में कैबिनेट मंत्री बन गए हैं।’

इससे पहले  सीतापुर से बीजेपी विधायक राकेश राठौर ने भी सवाल उठाए थे। उन्होने कहा था कि  विधायकों की कोई हैसियत नहीं रह गई। उन्होंने अगर ज्यादा बोला तो हो सकता है उन पर ही देशद्रोह का मामला दर्ज हो जाए।

वहीं केंद्रीय श्रम मंत्री संतोष गंगवार ने भी बरेली में कोविड-19 से निपटने की व्यवस्था को लेकर गुस्सा जताया था। उन्होंने आरोप लगाया था कि अधिकारी टेलीफोन नहीं उठाते हैं और रेफर करने के नाम पर सरकारी स्वास्थ्य केंद्रों से मरीजों को लौटाया जा रहा है।

गंगवार ने सीएम योगी से बरेली में खाली ऑक्सीजन सिलेंडर की भारी किल्लत और चिकित्सा उपकरणों को ऊंचे दामों पर बेचे जाने की शिकायत भी की थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *