पैगंबर मोहम्मद के बारे में अभद्र टिप्पणी पर भाजपा प्रवक्ता नुपुर शर्मा के खिलाफ दो और एफ़आईआर दर्ज

पैगंबर मुहम्मद के बारे में अपमानजनक टिप्पणियों को लेकर भारतीय जनता पार्टी की राष्ट्रीय प्रवक्ता नूपुर शर्मा के खिलाफ मंगलवार को दो और प्राथमिकी दर्ज की गईं। हैदराबाद साइबर क्राइम पुलिस स्टेशन ने शर्मा के खिलाफ एक शिकायत दर्ज की और मुंबई के भिवंडी सिटी पुलिस स्टेशन ने धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने के लिए दूसरी शिकायत दर्ज की।

इससे पहले 28 मई को मुंबई के पाइधोनी थाने में दर्ज कराया गया था। बता दें कि भाजपा नेता ने 26 मई को टाइम्स नाउ पर ज्ञानवापी मस्जिद-काशी विश्वनाथ मंदिर विवाद के बारे में एक शो के दौरान विवादित टिप्पणी की थी। एक दिन बाद, सोशल मीडिया पर भारी विवाद के बाद समाचार चैनल ने शर्मा की टिप्पणियों से खुद को दूर कर लिया।

लाइव लॉ की रिपोर्ट के अनुसार, मंगलवार को साइबर अपराध के पुलिस उप-निरीक्षक पी रविंदर ने शर्मा के खिलाफ शिकायत दर्ज करते हुए कहा कि उन्होंने टेलीविजन पर “पैगंबर मुहम्मद के खिलाफ अपमानजनक शब्दों” और “दुर्भावनापूर्ण अपमान” का इस्तेमाल किया था।

शर्मा के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 153A (विभिन्न समूहों के बीच दुश्मनी को बढ़ावा देना) और 504 (शांति भंग करने के इरादे से जानबूझकर अपमान), 505 (2) (वर्गों के बीच दुश्मनी, घृणा या दुर्भावना को भड़काना) और 506 (आपराधिक धमकी) के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई थी।

मुंबई में, पुलिस ने मुस्लिम संगठन रज़ा अकादमी के भिवंडी शहर विंग के संयुक्त सचिव वकास अहमद सगीर अहमद मलिक की शिकायत के आधार पर प्राथमिकी दर्ज की।

वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक चेतन काटके ने हिंदुस्तान टाइम्स को बताया कि अपनी शिकायत में मलिक ने कहा कि उन्होंने व्हाट्सएप पर एक लिंक मिलने के बाद शो देखा और पैगंबर मुहम्मद और उनकी पत्नी के बारे में शर्मा की टिप्पणियों से आहत हुए।

प्राथमिकी भारतीय दंड संहिता कि धारा 295 (ए) (धार्मिक भावनाओं को आहत करने के इरादे से जानबूझकर और दुर्भावनापूर्ण कार्य), 153 (ए) (विभिन्न समूहों के बीच दुश्मनी को बढ़ावा देना), 153 (बी) (राष्ट्रीय एकता के लिए पूर्वाग्रही दावे) और 505 (द्वितीय)  (सार्वजनिक शरारत के लिए अनुकूल बयान) के तहत दर्ज की गई थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *