तुर्की की मध्यस्था में युद्ध की समाप्ति पर रूस और यूक्रेन की बातचीत जारी, ये निकला नतीजा

यूक्रेन के विदेश मंत्री दिमित्रो कुलेबा ने तुर्की में अपने रूसी समकक्ष सर्गेई लावरोव के साथ बातचीत के बाद कहा है कि वह रूसी पक्ष के साथ जमीन पर मानवीय स्थिति का समाधान तलाशने के प्रयास जारी रखने के लिए सहमत हैं। कुलेबा ने कहा कि युद्धविराम पर कोई प्रगति नहीं हुई क्योंकि रूस के लावरोव इस मामले पर चर्चा करने के लिए अधिकृत नहीं थे।

कुलेबा ने बैठक के बाद संवाददाताओं से कहा, “मैं दोहराना चाहता हूं कि यूक्रेन ने आत्मसमर्पण नहीं किया है, आत्मसमर्पण नहीं किया है और आत्मसमर्पण नहीं करेगा।”

तुर्की, यूक्रेन और रूस के विदेश मंत्रियों के बीच उच्च स्तरीय त्रिपक्षीय बैठक तुर्की के अंताल्या डिप्लोमेसी फोरम के इतर हुई और एक घंटे से अधिक समय तक चली। तुर्की ने जोर देकर कहा कि यूक्रेन में मानवीय गलियारों को बिना किसी बाधा के खुला रखा जाना चाहिए, विदेश मंत्री कावुसोग्लू ने कहा, युद्ध में कोई विजेता नहीं होता है, और हारने वाले निर्दोष नागरिक होते हैं।

रूसी विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव ने कहा है कि राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन यूक्रेन के वलोडिमिर ज़ेलेंस्की के साथ बैठक करने से इनकार नहीं कर रहे हैं, लेकिन कुछ तैयारी कार्य किए जाने की आवश्यकता है।

अंताल्या में तुर्की और यूक्रेन के विदेश मंत्रियों के साथ अपनी बैठक के बाद, लावरोव ने दावा किया कि ज़ेलेंस्की ने समस्याओं का समाधान नहीं करने के लिए “दिखावा” करने के लिए बैठक का सुझाव दिया। उन्होने कहा, “यूक्रेन को हथियार भेजने वाले यूरोपीय संघ सहित विदेशी सहयोगी भाड़े के सैनिकों को प्रोत्साहित करते हैं।” लावरोव ने कहा, “वे अपने कार्यों के लिए जिम्मेदार होंगे”।

उन्होंने कहा कि रूस प्रतिबंधों का इस तरह सामना करेगा कि वह कभी भी पश्चिमी देशों पर निर्भर नहीं रहेगा। उन्होंने कहा, “हम इस तरह के उपाय करेंगे ताकि हमें फिर कभी ऐसी स्थिति का सामना न करना पड़े।”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *