NRI युसुफ अली ने एक करोड़ की ब्ल’डमनी देकर यूएई में भारतीय युवक को मौ’त की स’ज़ा से बचाया

एक 45 वर्षीय भारतीय युवक जिसे 2012 में एक सड़क दुर्घटना में एक युवा सूडानी लड़के की ह’त्या के मामले संयुक्त अरब अमीरात में मौत की स’जा सुनाई गई थी। जल्द ही आजाद होकर अपने देश लौटेगा और अपने घर-परिवार वालों से मिलेगा।

ये कारनामा केरल मूल के यूएई के बड़े बिजनेस मेन ए युसुफ अली की बदौलत पेश आया है। उन्होने मौ’त की सज़ा पाये कृष्णन के लिए एक करोड़ रुपये की ब्ल’ड मनी मृतक के परिवार को चुकाई। केरल के रहने वाले कृष्णन को यूएई सुप्रीम कोर्ट ने मौ’त की सजा सुनाई थी।  उन्हें सितंबर 2012 में एक युवा सूडानी लड़के की ह’त्या का दोषी पाया गया था।

दरअसल, कृष्णन ने लापरवाही से गाड़ी चलाते हुए बच्चों के एक समूह को टक्कर मार दी थी। तब से, उसका परिवार और दोस्त बिना किसी सफलता के कृष्णन की रिहाई के लिए कड़ी मेहनत कर रहा था। वहीं पीड़ित का परिवार पहले ही यूएई से वापस जा चुका और सूडान में बस गया था। जिससे किसी भी माफी का रास्ता बंद हो गया था।

ऐसे में कृष्णन के परिवार ने तब लुलु समूह के अध्यक्ष युसुफली से संपर्क किया, उन्होने मामले की जानकारी ली और सभी पक्षों से संपर्क किया। अंततः जनवरी 2021 में, सूडान में पीड़ित परिवार कृष्णन को क्षमा करने के लिए तैयार हो गया। लुलु समूह ने यहां एक बयान में कहा कि इसके बाद, युसुफली ने अदालत में मुआवजे के रूप में 500,000 दिरहम (लगभग एक करोड़ रुपये) का भुगतान किया।

अबू धाबी की अल वत्बा जे’ल में कल भारतीय दूतावास के अधिकारियों से बात करते हुए, एक अत्यधिक भावुक कृष्णन को घटनाओं के मोड़ पर विश्वास नहीं हुआ। उन्होने कहा, यह मेरे लिए एक पुनर्जन्म है, क्योंकि मैंने बाहरी दुनिया को देखने की सारी उम्मीद खो दी थी, एक स्वतंत्र जीवन की तो बात ही छोड़िए। अब मेरी एक ही इच्छा है कि मेरे परिवार के लिए उड़ान भरने से पहले एक बार युसुफली से मिलें।”

युसुफली ने कृष्णन की रिहाई के लिए और संयुक्त अरब अमीरात के शासकों को धन्यवाद दिया, और उनके आगे के सुखी और शांतिपूर्ण जीवन की कामना की। लुलु समूह के एक वरिष्ठ अधिकारी ने पीटीआई-भाषा को बताया कि कृष्णन की रिहाई से संबंधित सभी का’नूनी प्रक्रियाएं गुरुवार को पूरी कर ली गई हैं और उनके जल्द ही केरल में अपने गृहनगर वापस जाने की उम्मीद है, जिससे उनके और उनके परिवार के लिए नौ साल की पीड़ा समाप्त हो जाएगी।

अबू धाबी स्थित लुलु समूह, जो लुलु हाइपरमार्केट और शॉपिंग मॉल का मालिक है, मध्य पूर्व और उत्तरी अफ्रीकी क्षेत्र (एमईएनए) में शीर्ष खुदरा विक्रेताओं में से एक है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *