गोमांस ले जाने के शक में मुस्लिम वैन चालक की बेदर्दी से पिटाई, VIDEO वायरल

मथुरा : राल गांव में गोरक्षकों ने एक पिकअप वैन के 35 वर्षीय चालक को उसके वाहन में ‘गोमांस लाने और मवेशियों की तस्करी’ करने के संदेह में बेरहमी से पीटा गया।

सोमवार रात सोशल मीडिया पर ड्राइवर के कई कथित वीडियो सामने आए, जिसमें मोहम्मद आमिर के रूप में पहचाने जाने वाले, 2-3 लोगों द्वारा बेल्ट से पिटाई की जा रही थी, जबकि उसकी शर्ट को फाड़ दिया गया था। पीड़ित विडियो में  दया की भीख मांगता हुआ दिखाई देता है, लेकिन वे कोई दया नहीं दिखाते। गाली-गलौज भी करते है।

एसपी एमपी सिंह ने कहा कि मथुरा के गोवर्धन से हाथरस के सिकंदरराव की ओर जा रही वैन को स्थानीय निवासियों और गौरक्षकों ने राल गांव में एक दक्षिणपंथी संगठन से रोका। हालांकि, प्रारंभिक जांच के दौरान, वैन में कुछ जानवरों के शवों को छोड़कर, जिनके लिए आमिर के पास लाइसेंस था, कुछ भी नहीं मिला। उन्होंने कहा कि संदिग्धों ने कथित तौर पर चालक को बंधक बना लिया और उसकी बेरहमी से पिटाई की।

एसपी ने कहा कि वैन चालक के साथ उनके संबंधों के संदेह में दो अन्य लोगों को भी जनता ने पीटा था, उन्होंने कहा कि उन्होंने तीनों लोगों को भीड़ से बचाया और उन्हें चिकित्सा के लिए भेजा। डॉक्टरों के मुताबिक आमिर के चेहरे और कंधे पर चोट के निशान थे। डॉक्टरों ने कहा, “उन्हें कोई बड़ी चोट नहीं आई।”

एसपी (सिटी) ने आगे कहा कि इस मामले में जैत पुलिस स्टेशन में दो प्राथमिकी दर्ज की गई हैं। एक आमिर की शिकायत पर दर्ज कराई गई थी जबकि दूसरी विश्व हिंदू परिषद (विहिप) के गौ रक्षा विभाग के संयोजक विकास शर्मा ने दर्ज कराई। पुलिस ने कहा कि आमिर की शिकायत पर विहिप के विकास शर्मा और बलराम ठाकुर समेत 16 लोगों और कुछ अज्ञात लोगों के खिलाफ 307 (हत्या का प्रयास) समेत आईपीसी की संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है।

प्राथमिकी में, आमिर ने कहा कि “शर्मा और ठाकुर ने राल गांव में उनके वाहन को रोका और यह जानने के बाद कि जानवरों के शवों को हाथरस ले जाया जा रहा है, उन्होंने उसे बुरी तरह से पीटना शुरू कर दिया।” इस बीच, शर्मा ने अपनी शिकायत में, राल गांव के स्थानीय निवासियों पर आमिर के साथ उनकी संलिप्तता के संदेह में उनके सहयोगी बलराम ठाकुर, जो समिति के सचिव हैं, के साथ उनकी पिटाई करने का आरोप लगाया। शर्मा की शिकायत पर संबंधित आईपीसी की धाराओं के तहत चौदह नामजद और 150 अज्ञात लोगों पर मामला दर्ज किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *