गोवा में कांग्रेस को हराने में ममता बनर्जी ने की बीजेपी की मदद: अधीर रंजन चौधरी

कांग्रेस सांसद अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि ममता बनर्जी ने भाजपा को खुश करने के लिए गोवा चुनाव लड़ा था। बता दें कि टीएमसी के गोवा में चुनाव लड़ने की घोषणा के साथ ही कांग्रेस और तृणमूल कांग्रेस पिछले कुछ समय से आमने-सामने हैं।  चौधरी ने कहा, “आज तक, कांग्रेस के पास पूरे भारत में 700 विधायक हैं। कांग्रेस ने विपक्ष का 20 फीसदी वोट शेयर हासिल किया। ममता बनर्जी भाजपा को खुश करने की कोशिश कर रही हैं, ताकि वह उसकी दलाल (एजेंट) बन सके। इसलिए आज वह बहुत कुछ कह रही हैं।”

पांच राज्यों में मतगणना के बाद शुक्रवार को ममता बनर्जी ने कहा, ‘इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) की लूट और कदाचार हुआ। सपा प्रमुख अखिलेश यादव को निराश नहीं होना चाहिए और ईवीएम की फोरेंसिक जांच सुनिश्चित करनी चाहिए।

चौधरी ने जवाब दिया, “राष्ट्रीय राजनीति में उनकी कोई प्रासंगिकता नहीं है। इसलिए वह कभी ईवीएम पर तो कभी कांग्रेस पर आरोप लगा रही हैं। आप कांग्रेस को दोष क्यों दे रहे हैं? खुद प्रधानमंत्री बनो।” अधीर चौधरी ने पार्टी के प्रदर्शन पर सवाल उठाते हुए कहा। इन पांच राज्यों में टीएमसी को कितनी सीटें मिलीं? “आप बीजेपी को खुश करने के लिए गोवा गए थे। मोगैम्बो खुश हो गया! आपने बीजेपी के साथ अपनी रेटिंग बढ़ाने के लिए वहां कांग्रेस को हराया। सभी जानते हैं कि ममता बनर्जी ने गोवा में कांग्रेस को तोड़ा।”

तृणमूल प्रवक्ता कुणाल घोष ने अधीर रंजन चौधरी की टिप्पणी का खंडन करते हुए कहा, “कांग्रेस 2014 से खुद को साबित करने में विफल रही है। कांग्रेस पहले पंजाब और बिहार में बुरी तरह हार गई थी। यह कैसे संभव है कि टीएमसी ने भाजपा को कांग्रेस को हराने में मदद की? पिछली बार गोवा में कांग्रेस विधायक दलबदल कर भाजपा में शामिल हुए थे। वे अपनों को बचाने में नाकाम रहे। हमें गोवा में छह फीसदी वोट शेयर मिला। 2024 अब दूर है। लोकसभा चुनाव के लिए हमारी नीति है कि सभी भाजपा विरोधी, लोकतांत्रिक और प्रगतिशील दलों को एक साथ आना चाहिए। आइए बात करते हैं।”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *