3.5 करोड़ रुपये की डकै’ती के मामले में पुलिस ने भाजपा नेता से की पूछताछ

राज्य विधानसभा चुनाव से ठीक तीन दिन पहले 3 अप्रैल को 3.5 करोड़ रुपये की हाईवे डकैती के मामले में केरल पु’लिस ने शुक्रवार को राज्य भाजपा महासचिव (संगठन) एम गणेशन से पूछताछ की। सत्तारूढ़ वाम मोर्चा का आरोप है कि लू’टपाट स्थानीय भाजपा नेताओं द्वारा “अप्रयुक्त चुनावी धन साझा करने” के लिए एक “नाटक” रचा गया था।

पुलि’स सूत्रों ने बताया कि आरएसएस के वरिष्ठ प्रचारक गणेशन से तीन घंटे तक पूछताछ की गई। भाजपा के राज्य कार्यालय सचिव जी गिरीशीन से शनिवार को पूछताछ किए जाने की संभावना है। इससे पहले अप’राध शाखा ने शनिवार को भाजपा के राज्य महासचिव और आरएसएस के वरिष्ठ प्रचारक एम गणेशन और भाजपा के राज्य कार्यालय सचिव जी गिरीशन को नोटिस जारी किया था।

इससे पहले केरल पुलि’स ने शनिवार को त्रिशूर और कोच्चि के बीच राजमार्ग पर हुई ड’कैती के सिलसिले में त्रिशूर के तीन भाजपा नेताओं-जिला महासचिव के आर हरि, केंद्रीय क्षेत्रीय सचिव काशीनाथन और जिला कोषाध्यक्ष सुजय सेनान से पूछताछ कर चुकी है।

उल्लेखनीय है कि कथित डकै’ती के चार दिन बाद, 7 अप्रैल को यह मामला सामने आया, जब मतदान के एक दिन बाद स्थानीय पुलि’स में दर्ज एक शिकायत में, कार ड्राइवर ने कहा था कि पैसा कोझीकोड के व्यवसायी और आरएसएस कार्यकर्ता एके धर्मराजन का है। धर्मराजन ने दावा किया कि उन्हें राज्य भाजपा युवा मोर्चा के पूर्व नेता सुनील नाइक से पैसा मिला था।

पु’लिस सूत्रों ने कहा कि राज्य के भाजपा नेताओं को फंड के बारे में पता था। उन्होंने बताया कि जिन तीन जिला स्तरीय भाजपा नेताओं से शनिवार को पूछताछ की गई, उन्होंने राज्य के नेताओं के खिलाफ बयान दिए।

आरएसएस कार्यकर्ता एके धर्मराजन के बयान के आधार पर पुलि’स ने गुरुवार को भाजपा अलाप्पुझा जिला सचिव के जी कार्थी से पूछताछ की। ड’कैती से पहले और घटना के बाद के दिनों में कार्थ धर्मराजन के संपर्क में था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *