हिंदुत्व संगठनों ने मुस्लिम युवक पर झूठा मुकदमा दर्ज कराने का डाला दबाव, हिंदू महिला ने किया इंकार

मेरठ: कुछ महीने पहले कई मीडिया रिपोर्ट आई थी जिसमे दावा किया गया था कि मेरठ के एक बाजार में एक मुस्लिम शख्स ने हिंदू महिला को प्रताड़ित किया। हालांकि, ये आरोप अब झूठा निकला है। स्क्रॉल की एक रिपोर्ट के मुताबिक, हिंदुत्व संगठनों के दबाव के बावजूद महिला और परिवार ने मुस्लिम युवक के खिलाफ झूठा मामला दर्ज करने से इनकार कर दिया है।

पहले क्या बताया था?

कई मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया गया है कि जब वह अपने दोस्त के साथ कोल्ड ड्रिंक पी रही थी तो आदमी ने महिला से छेड़छाड़ की। यह भी दावा किया गया है कि हिंदू जागरण मंच के लोगों ने आरोपी सलमान की पिटा’ई भी की थी। इस दौरान महिला ने भी उसे अपनी चप्पलों से पी’टा था।

एक रिपोर्ट में यह भी दावा किया गया है कि मुस्लिम युवक नियमित रूप से बाजार में हिंदू महिलाओं को परेशान करते हैं।

महिला का बयान

हालांकि, महिला ने कहा कि वह और उसके दोस्त सलमान के साथ कोल्ड ड्रिंक पी रहे थे, तभी बजरंग दल के कार्यकर्ता ने आकर उनका नाम पूछा। जब उन्हें पता चला कि उस आदमी का नाम ‘सलमान’ है, तो उन्होंने उसे अपनी चप्पल से मारने के लिए मजबूर किया।

जब स्क्रॉल ने परिवार से संपर्क किया, तो महिला की मां ने कहा, “मैं पढ़ या लिख ​​नहीं सकती। उन्होंने शिकायत में झूठे आरोप लगाकर और उस पर मेरे अंगूठे का निशान लगाकर इसका फायदा उठाया। मैंने थाने में साफ तौर पर कहा है कि मुझे उस शख्स से कोई शिकायत नहीं है।

बाजार की घटना के बाद क्या हुआ था, यह बताते हुए उन्होंने कहा कि हिंदू जागरण मंच ने पंजाब में काम करने वाली महिला के भाई को फोन करके दबाव बनाने की कोशिश की थी। टेलीफोन कॉल के बाद महिला के भाई ने अपनी बहन को बहुत अधिक आजादी देने के लिए अपनी मां को दोष देना शुरू कर दिया।

इस बीच सलमान के परिवार खासकर उनकी मां को इस बात का डर सता रहा है कि कहीं उन्हें किसी और मामले में फंसाया न जाए। उसकी माँ चाहती है कि वह शहर जाए और अपने भाई के साथ रहे। सच बोलने के लिए माँ-बेटी का शुक्रिया अदा करते हुए सलमान ने कहा कि उनके बयान ने उन्हें बचा लिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *