मध्य प्रदेश का विदिशा बना कोरोना हॉटस्पॉट, कुंभ से लौटे 61 में से 60 श्रद्धालु संक्रमित

हरिद्वार का कुंभ देश भर में कोरोना के प्रसार का एक बड़ा साधन बन गया है। कुंभ से लौटे श्रद्धालु न केवल कोरोना से संक्रमित पाए जा रहे है बल्कि कोरोना के प्रसार का भी जरिया बन रहे है। ताजा मामला मध्य प्रदेश के विदिशा का है। जहां हरिद्वार कुंभ से लौटे 61 में से 60 श्रद्धालु  कोरोना से संक्रमित पाए गए है।

जानकारी के अनुसार, विदिशा जिला मुख्यालय से 40 किलोमीटर की दूरी पर स्थित ग्यारसपुर में 83 तीर्थयात्री तीन अलग-अलग बसों से 11 से 15 अप्रैल के बीच कुंभ में शामिल होने के लिए हरिद्वार गए थे। ये सभी 25 अप्रेल को कुंभ में शामिल होकर लौट आए। लेकिन जब इन सभी का कोरोना टेस्ट किया गया तो केवल इस दौरान 61 की ही जानकारी मिल पाई। 22 के बारे में कोई जानकारी प्राप्त नहीं हुई। अब इन लोगों को तलाशा जा रहा है। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के अनुसार 61 में से 60 श्रद्धालु कोरोना से संक्रमित है। जिनमे 5 की स्थिति गंभीर है। गंभीर श्रद्धालु को कोविड सेंटर में शिफ्ट किया गया है। इसके अलावा बाकी 55 संक्रमितों को होम क्वारनटीन किया गया है।

बता दें कि कुंभ से लौटे मध्य प्रदेश के जबलपुर स्थित नरसिंहपुर मंदिर के प्रमुख महामंडलेश्वर जगतगुरु स्वामी श्याम देवाचार्य महाराज की कोरोना की वजह से मौत के बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इस सबंध में विशेष दिशा निर्देश जारी किए थे। जिसमे जिला कलेक्टरों को कुंभ मेले से लौटने वालों की निगरानी सुनिश्चित करने के बारे में कहा गया था।

इससे पहले खबर आई थी कि राजस्थान से 19 श्रद्धालु जो हरिद्वार कुंभ में शामिल होने के लिए आए थे। जिन्हें कोविड-19 पॉजिटिव होने के बाद टिहरी जिले के अस्पताल में भर्ती कराया गया थ। इलाज के  दौरान 18 अप्रैल को हॉस्पिटल से भाग गए। स्वास्थ्य विभाग के एक अधिकारी ने टाइम्स ऑफ इंडिया से  बताया कि इस मामले में एफआईआर दर्ज कराकर जिला प्रशासन ने इस बारे में राजस्थान सरकार को सूचित कर दिया।

इस बीच राजस्थान के चिकित्सा मंत्री रघु शर्मा ( Raghu Sharma) का कहना है कि प्रवासी और कुंभ मेले से लौटे हुए लोगों से भी बड़ी संख्या से राज्य में संक्रमण फैला है। उन्होने कहा, धार्मिक आस्थाएं जरूरी हैं, लेकिन इस आयोजन को लेकर पर्याप्त तैयारी नहीं की गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *