हिंदुत्ववादियों के नमाज के विरोध पर गुरुग्राम के मुस्लिमों ने प्रशासन से मांगी वक्फ से जुड़ी 19 संपत्तियां

हरियाणा के गुरुग्राम में शुक्रवार की नमाज को लेकर हिंदुत्ववादियों ने उत्पात मचाया हुआ है। वे मुसलमानों के जुम्मे की नमाज में न केवल बाधा डाल रहे है। बल्कि शहर की शांति को भी नुकसान पहुंचा रहे है। ऐसे में अब मुस्लिम समुदाय ने स्थानीय प्रशासन से वक्फ से जुड़ी 19 संपतियों और मस्जिदों को वापस देने की मांग की। जिन पर अतिक्रमण किया हुआ है।

दरअसल, हाल ही में संयुक्त हिंदू संघर्ष समिति ने ऐलान किया है कि वे इस शुक्रवार को सेक्टर 12 में गोवर्धन पूजा करेंगे। यानि मुस्लिमों को नमाज अदा करने से रोकने के लिए वे सेक्टर 12 में गोवर्धन पूजा और भंडारा करेंगे। बता दें कि कुछ ही दूरी पर इस जगह मुस्लिमों द्वारा शुक्रवार को नमाज भी अदा की जाती है।

ऐसे में अब  मुस्लिम एकता मंच ने प्रशासन से गुड़गांव में 19 वक्फ बोर्ड की संपत्तियों और मस्जिदों को अतिक्रमण से मुक्त कर मुस्लिमों को सौंपे जाने की मांग की है। ताकि उन्हे मुस्लिमों को सार्वजनिक स्थानों पर नमाज अदा करने की जरूरत न हो।

मुस्लिम एकता मंच के अध्यक्ष शहजाद खान का कहना है कि हमने डीसी से मुलाकात की है और अपनी चिंता जाहिर की है। हमने प्रशासन से अनुरोध किया है कि या तो हमें जमीन आवंटित करें, जिससे हम मस्जिद बना सकें, या फिर जो मस्जिद बंद हैं उन्हें खोल दें, जिससे हम वहां नमाज अदा कर सकें।

उन्होंने कहा कि अगर गुरुग्राम की 19 मस्जिदें खोल दी जाती हैं तो हमें खुले में नमाज पढ़ने की जरूरत नहीं पड़ेगी। पिछले कुछ महीनों से कुछ असामाजिक तत्वों ने नमाज में खलल डाला है और दुश्मनी को बढ़ावा देने की कोशिश की है। हम चाहते हैं कि समुदायों के बीच सद्भाव बना रहे।

उन्होंने कहा कि हम सेक्टर 12 में पूजा और भंडारा करने के निर्णय का स्वागत करते हैं। अगर वे हमें वहां से धक्का देकर पूजा करते हैं, तो हम यहां से जाने के लिए तैयार हैं। हम उनके साथ हैं और प्रार्थना के लिए 5100 रुपए दान करेंगे।

उन्होंने कहा कि हमने प्रशासन से अगले कदम के बारे में सूचित करने के लिए कहा है। फिर चाहें वो सेक्टर 12 से कहीं और जाने की बात हो या वहां से कुछ दूर नमाज पढ़ने की बात हो। उन्होंने ये भी कहा कि शुक्रवार को नमाज पढ़ी जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *