शुद्धिकरण कराने के लिए लड़की को अर्धनंगी कर नर्मदा में लगवाई डुबकी

मध्य प्रदेश के बेतुल में एक बेहद ही शर्मनाक मामला सामने आया है। जहां एक दलित लड़के से शादी करने पर एक लड़की को अर्धनंगी कर नर्मदा में डुबकी लगवाई गई।

जानकारी के अनुसार, बेतूल के चोपना निवासी साक्षी यादव और अमित अहिरवार ने अपनी मर्जी से आर्य समाज मंदिर में शादी की थी।  साक्षी यादव की आयु 24 वर्ष और उसके पति अमित अहिरवार की 27 वर्ष है। इस शादी को लेकर लड़की का परिवार खुश नहीं था।

ऐसे में 11 मार्च 2020 को शादी के बाद परिवार के सदस्यों ने पुलिस की मदद से साक्षी को उसके ससुराल से वापस बुला कर उसे राजगढ़ में पढ़ने भेज दिया।

इस दौरान 18 अगस्त को उसके पिता उसे नर्मदा नदी पर ले गए। जहां चार लोगों के सामने उसे अर्धनग्न करके उसका शुद्धीकरण किया गया।

इस दौरान साक्षी को नदी में डुबकी लगवाई, उसे झूठी पूड़ी खिलाई गई, उसके बाल काटे गए और शरीर पर जो कपड़े थे उन्हें वही फेंक दिया गया।

अब साक्षी पर दबाव बनाया जा रहा है की वह अमित से तलाक लेकर अपनी ही जाति में शादी करे। साक्षी का आरोप है कि इसके लिए पुलिस भी उसके पिता का साथ दे रही है।

वहीं अमित अहिरवार का कहना है कि शादी के बाद साक्षी के पिताजी लगातार मेरे घर आए फिर उन्होंने मेरे घर पुलिस भेजी और मुझे बिना बताए मेरी पत्नी को अपने अपने घर ले गए। मेरी पत्नी हॉस्टल से भागकर मेरे घर आ गई। उन्होने बताया कि आज हमने पुलिस में शिकायत की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *