छत्तीसगढ़: पति ने लगाया नाबालिग बेटे के धर्म परिवर्तन का आरोप, पत्नी हुई गिरफ्तार

छत्तीसगढ़ के जशपुर जिले में एक व्यक्ति ने अपनी पत्नी और उसके ससुराल वालों के खिलाफ कथित तौर पर अपने नाबालिग बेटे का खतना कराने और उसकी सहमति के बिना बच्चे को इस्लाम में परिवर्तित करने के लिए पुलिस शिकायत दर्ज कराई, पुलिस ने बुधवार को ये जानकारी दी।

जशपुर के पुलिस अधीक्षक विजय अग्रवाल ने कहा कि एक हिंदू व्यक्ति ने लगभग 10 साल पहले एक मुस्लिम महिला से शादी की थी और उसके दो बच्चे हैं, एक 8 साल का बेटा और एक 6 साल की बेटी है। मामला सना थाने में दर्ज कराया गया है।

उन्होंने कहा, “हमने बुधवार को उसकी पत्नी और सास को गिरफ्तार कर लिया है और आगे की जांच जारी है।”

अग्रवाल ने कहा कि आरोपियों के खिलाफ आईपीसी की धारा 295-ए (जानबूझकर और दुर्भावनापूर्ण कार्य, किसी भी वर्ग की धार्मिक भावनाओं को उसके धर्म या धार्मिक विश्वासों का अपमान करने के इरादे से), 324 (खतरनाक हथि’यारों या साधनों से स्वेच्छा से चोट पहुंचाना) और 34 (सामान्य इरादा) और छत्तीसगढ़ धर्म स्वतंत्रता अधिनियम के प्रावधान के तहत मामला दर्ज किया है।

शख्स की ओर से दर्ज कराई गई शिकायत के मुताबिक, उसकी और उसकी पत्नी ने करीब 10 साल पहले हिंदू रीति-रिवाज से शादी की थी।

एक पुलिस अधिकारी ने प्राथमिकी के हवाले से कहा, नवंबर में, उनकी पत्नी कथित तौर पर अपने बेटे को अस्ता सरडीह गांव में अपने मायके ले गई और फिर उसे बताए बिना, वह और उसके कुछ ससुराल वाले बच्चे को खतना के लिए अंबिकापुर ले गए,

उस व्यक्ति ने कहा कि उन्होंने बच्चे को इस्लाम में परिवर्तित कर दिया और उस पर भी धर्म परिवर्तन के लिए दबाव बनाने की कोशिश की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *