करोड़ो की घुस मांगते कैमरे में कैद हुए था आरएसएस प्रचारक, अब जाएगा सीधे जे’ल

राजस्थान में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) के प्रचारक निंबाराम का घूसख़ोरी मामले में जे’ल जाना तय है। दरअसल एसीबी ने निंबाराम सहित चार लोगों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। बता दें कि बीते दिनों उनका जयपुर ग्रेटर नगर निगम में सफाई कंपनी बीवीजी के बिल पास करने की एवज में 20 करोड़ रुपये की रिश्वत की लेनदेन की बातचीत का वीडियो वायरल हुआ था।

इससे पहले एसीएम एसीबी जयपुर ग्रेटर की निलंबित मेयर सौम्या गुर्जर के पति राजाराम गुर्जर को गिर’फ्तार कर चुकी है। राजाराम गुर्जर को आज सुबह एसीबी ने पूछताछ के लिए मुख्यालय बुलाया। जहां उन्हे पूछताछ के बाद मुकदमा दर्ज कर गिर’फ्तार कर लिया। इसके अलावा बीवीजी कंपनी के प्रतिनिधि ओम प्रकाश सप्रे की भी गिरफ्ता’री हुई है।

उल्लेखनीय है कि निगम में कम्पनी के 302 करोड़ रुपए बकाया हैं। इसी बकाया के भुगतान के लिए आरएसएस प्रचारक की और से कंपनी से 10 फीसदी कमीशन की मांग की गई थी। VIDEO सामने आने के बाद भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो ने मामले में प्रारंभिक जांच की एक शिकायत दर्ज की थी।

पैसे के लेनदेन की बातचीत से जुड़े 4 वीडियो सामने आए थे। संघ प्रचारक निंबाराम  वीडियो में एक जगह यह कहते हुए सुनाई दे रहे हैं कि ये पुराने स्टेटमेंट बोल रहे हैं। वीडियो को जांच के लिए फोरेंसिक लैब भेजा गया। बता दें कि बीवीजी कंपनी को तत्कालीन सीएम वसुंधरा राजे के कार्यकाल में कचरा उठाने का ठेका दिया गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *