संजय राउत ने पूछा – महाराष्ट्र के गौरव का अपमान करने वालों के साथ है बीजेपी नेता?

शिवसेना सांसद संजय राउत ने अपनी पार्टी और केंद्रीय मंत्री नारायण राणे के बीच जारी झगड़े के बीच रविवार को आश्चर्य जताते हुए कहा कि क्या भाजपा नेतृत्व उन लोगों का समर्थन कर रहा है जो महाराष्ट्र के गौरव और स्वाभिमान का अपमान करते हैं।

पार्टी के मुखपत्र ‘सामना’ के कार्यकारी संपादक राउत ने अपने साप्ताहिक कॉलम में कहा कि महाराष्ट्र भाजपा नेताओं देवेंद्र फडणवीस और चंद्रकांत पाटिल के अलावा, भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा और गृह मंत्री अमित शाह जैसे केंद्रीय नेताओं ने कथित तौर पर राणे को समर्थन देने के लिए फोन किया था।

उन्होने कहा, “अगर यह सच है तो यह महाराष्ट्र के स्वाभिमान और गौरव का अपमान है। महाराष्ट्र के स्वाभिमान और गौरव का अपमान करने वालों के समर्थन में दिल्ली क्यों खड़ी है? बता दें कि भाजपा सांसद राणे को मुख्य मंत्री उद्धव ठाकरे के खिलाफ विवादित बयान देने के बाद 24 अगस्त को गिरफ्तार किया गया था।  

राउत ने राणे और उनके बेटों – पूर्व सांसद नीलेश राणे और भाजपा विधायक नितेश राणे पर शिवसेना नेतृत्व के खिलाफ “अपमानजनक और असंसदीय” भाषा का इस्तेमाल करने का आरोप लगाया। उन्होंने लिखा, “एक केंद्रीय मंत्री राज्य के मुख्यमंत्री को थप्पड़ मारने की बात करता है और भाजपा नेता असहाय होकर इधर-उधर देखते हैं।”

राउत ने राणे की गिरफ्तारी को भाजपा नेताओं द्वारा कानूनी रूप से असंवैधानिक करार दिए जाने पर आश्चर्य व्यक्त किया। “किसी को भी पीएम, राष्ट्रपति और मुख्यमंत्री के पदों का अपमान करने का अधिकार नहीं है। राणे अक्सर इस अप’राध को अंजाम देता रहा है। अगर किसी को लगता है कि इस संबंध में कार्रवाई करना अपराध है तो यह संविधान का अपमान करने जैसा है।

राउत ने कहा कि राणे के बेटों ने उनके पिता के राजनीतिक करियर को सबसे ज्यादा नुकसान पहुंचाया है. उन्होंने कहा, “राणे के बेटों के कारण फडणवीस और चंद्रकांत पाटिल (महाराष्ट्र भाजपा प्रमुख) का भी यही हश्र होगा।”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *