क्या News18 उस सीसीटीवी फ़ुटेज को चला रहे, जिसमें उसके पत्रकार सौरभ शर्मा को धमकी दी गई?

रवीश कुमार 

क्या News18 उस सीसीटीवी फ़ुटेज को चला रहा है जिसमें उसके पत्रकार सौरभ शर्मा को धमकी दी गई? उनकी पत्नी के साथ अभद्रता हुई? क्या सौरभ शर्मा के साथी कुछ लिख बोल रहे हैं या चुप हो गए हैं? इस खबर की एक एक डिटेल को आप ध्यान से पढ़िए। समाज किस तरह खोखला होता जा रहा है। पुलिस की मौजूदगी में सौरभ शर्मा की पत्नी अंकिता शर्मा के साथ अभद्रता की गई है। पुलिस की मौजूदगी में यह सब हुआ है और लिखा है कि मौक़े पर खड़े दो पुलिसकर्मी ने कुछ नहीं किया।

उनका छह साल का बच्चा भीड़ के हाथों में चला गया था। जैसे रोज़ लाखों लोगों का दिल और दिमाग़ भीड़ की दहशत से घिरा रहता है उसी तरह वो बच्चा घिर गया। उस पर कितना भयानक असर पड़ा होगा। पत्नी का भरोसा कितना टूट गया होगा। समाज और पुलिस पर। पत्नी अंकिता ने बयान जारी किया है कि पुलिस के बाद भी रात भर लाउडस्पीकर बजता रहा और जगराता में शामिल कथित रूप से शराब के नशे में थे। कथित मैंने अपनी तरफ़ से जोड़ दिया है। हो सकता है वहाँ के जगराता शामिल लोगों न शराब न पी हो, चरनामृत पी हो?

सोशल मीडिया पर लिखा जा रहा है कि चैनल के ऐंकर भी चुप है। वो सारे लोग जो धर्म की आड़ लेकर दूसरों की चुप्पी को ललकारते हैं वो भी चुप हैं। पत्रकार नवीन कुमार ने एक तस्वीर ट्विट किया है,जिसमें कथित उत्पातियों का चेहरा है, उन सबके नाम भी होंगे मगर कार्रवाई नहीं हुई है। अफ़सोस कि पत्नी और बच्चे को यह सब झेलना पड़ा लेकिन यह तो न जाने कितने लोग झेल रहे हैं।

इस चैनल का रोल भी नफ़रत फैलाने में रहा है। मुझे सौरभ शर्मा के फ़ेसबुक पोस्ट और लाइक की जानकारी नहीं है न कभी कोई कार्यक्रम देखा है, मगर सौरभ और अंकिता को भी पाकिस्तानी कहा गया और जान से मारने की धमकी दी गई। क्या मुझे कोई बता सकता है कि नफ़रत को लेकर सौरभ शर्मा के क्या विचार रहे हैं? किस तरह के पोस्ट हुआ करते थे? क्या सौरभ शर्मा ने अपने साथियों के नफरती शो को याद किया होगा कि उसके नतीजे में खुद उनकी जान ख़तरे में पड़ सकती है? क्या सौरभ शर्मा यह सब सोच रहे होंगे? कि उनके साथी चुप हैं और रवीश कुमार पोस्ट लिख रहा है? यह मौक़ा कहने का नहीं है लेकिन इसी मौक़े पर कहने की ज़रूरत है। यह प्रोजेक्ट अल्पमत को डराने के नाम पर बहुमत के लड़कों को दंगाई बनाने का है जो पूरा हो चुका है। सौरभ शर्मा ने उसकी झलक देख ली। जिसे हम रोज़ हिंसा के अनगिनत वीडियो में देख रहे हैं।

पुलिस का बयान आया है कि इसमें आरोप है कि ऐंकर शराब पिए था ! जाँच हो रही है। थाना बिसरख क्षेत्रान्तर्गत दिनांक 10.04.2022 की रात्रि में ईकोविलेज 3 के निवासियों द्वारा माता भगवती का जागरण किया जा रहा था। जिसके सम्बन्ध में पीआरवी को कॉलर द्वारा सूचना प्राप्त हुयी कि हमारे यहां तेज आवाज में भजन/गाने चलाये जा रहें है, उक्त सूचना पर पीआरवी द्वारा मौके पर पहुॅच कर आवाज को धीमी कराया गया।

तक्तपश्चात कॉलर पक्ष द्वारा थाना बिसरख पर प्रार्थना पत्र दिया गया है कि डीजे बन्द कराने को कहने को लेकर जागरण के आयोजकों/जागरण में उपस्थित लोगों द्वारा मेरे साथ अभद्रता की गयी है। वहीं जागरण के आयोजकों/जागरण में उपस्थित लोगों के द्वारा प्रार्थना पत्र दिया गया है कि उक्त कॉलर द्वारा शराब के नशे में जागरण में आकर लोगों को अपशब्द बोले और अभद्रता की गयी है।

थाना बिसरख पुलिस द्वारा दोनों पक्षों के द्वारा दिये गये प्रार्थना पत्रों के आधार पर जॉच की जा रही है। मारपीट जैसी घटना के संबंध में सीसीटीवी फुटेज की भी तलाशी ली गई है, जिससे स्थिति स्पष्ट नहीं हो पाई है, फिर भी पुलिस द्वारा दोनो पक्षों द्वारा लगाए आरोपों के संबंध में गहनता से जांच/पूछताछ की जा रही है बाद जॉच तथ्यों के आधार पर नियमानुसार आवश्यक कार्यवाही की जायेगी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *